how to start a plant based diet,9 tips to adopting a plant-based diet,9 tips to adopting a plant-based diet in hindi,9 tips to adopting a plant based diet meal plan,9 tips to adopting a plant based diet for weight loss,how do you adapt to a plant-based diet?,how do i adopt a whole food plant-based diet?,plant-based,beginners guide to a plant based diet,how to start a plant based diet for beginners,plant-based diet,how to start a whole food plant based diet

9 Tips to Adopting a Plant-Based Diet

9 Tips to Adopting a Plant-Based Diet

9 Tips to Adopting a Plant-Based Diet : वैसे हेल्थ के बारे में जब बात की जाती है तो सबसे बड़ी एडवाइस होती है कि आप एक अच्छी सी डाइट को फॉलो करें और जहां तक डाइट की बात है तो आज हम बात करेंगे प्लांट बेस्ड डाइट के बारे में जो हेल्दी और ट्रेंडी साउंड करती है और क्या आप यह जानते हैं कि प्लांट बेस्ड डाइट और वीगन डाइट में कुछ डिफरेंसेस भी होते हैं तो यह सवाल करने के रीजन बस यही है कि आजकल ग्रोसरी स्टोर्स और रेस्टोरेंट्स में प्लांट बेस्ड ऑप्शंस अलग से नजर आने लगे हैं 

तो हो सकता है कि इन्हें आपने भी नोटिस किया हो और शायद आप जानते भी हो कि प्लांट बेस्ड डाइट का मतलब है प्लांट से मिलने वाले फूड पर बेस्ड डाइट लेकिन वीगन डाइट भी तो यही होती है है ना तो इनमें फर्क क्या है और कैसे आप अपनी डाइट में प्लांट बेस्ड डाइट को ज्यादा से ज्यादा इवॉल्व कर सकते हैं और इस डाइट को अपना कर के आप कौन-कौन से मेजर फायदे गेन कर सकते हैं यह सब आपको पता चलेगा आज के इस  पोस्ट में तो इसे लास्ट तक जरूर देखें 

तो चलिए शुरू करते हैं और सबसे पहले ये जानते हैं कि प्लांट बेस्ड डाइट में क्या आता है तो इस तरह की डाइट में आती है सब्जियां फल नट्स सीड्स ऑयल्स होल ग्रेंस लेगम्स और बींस तो यह तो समझ लिया है हमने लेकिन यह प्लांट बेस्ड डाइट वीगन डाइट से किस तरीके से अलग होती है आइए जानते हैं तो जहां पर वीगन डाइट में हर तरह के एनिमल प्रोडक्ट्स को अवॉइड किया जाता है जिसमें ना केवल मीट और डेरी प्रोडक्ट शामिल होते हैं बल्कि लेदर फर और वूल जैसा हर वह प्रोडक्ट आता है जो कि एनिमल से मिलता है यानी फूड से लेकर क्लोथिंग और एक्सेसरीज तक सब कुछ यूज करना छोड़ दिया जाता है वहीं प्लांट बेस्ड डाइट में फोकस प्लांट से मिलने वाले फूड पर तो रहता ही है लेकिन इसका मतलब डेरी प्रोडक्ट्स मीट और लेदर जैसे एनिमल प्रोडक्ट्स को पूरी तरह छोड़ना नहीं होता है इस तरह वेगन डाइट जहां लाइफ के हर एक एरिया से एनिमल प्रोडक्ट्स को रिमूव करती है वहीं प्लांट बेस्ड डाइट में मेनली फोकस डाइट पर ही होता है तो ये बहुत ही बारीक सा डिफरेंस है दोनों पॉपुलर और ट्रेंडी डाइट्स में लेकिन इन दोनों का ही पर्पस बहुत अच्छा है क्योंकि वीगन डाइट की ही तरह प्लांट बेस्ड डाइट भी बहुत से हेल्थ और और एनवायरमेंट बेनिफिट्स ऑफर करती है 

जैसे कि बेटर न्यूट्रिशन क्योंकि प्लांट से मिलने वाली डाइट हमें गुड हेल्थ देती है फ्रूट्स एंड वेजिटेबल्स में विटामिंस मिनरल्स एंटीऑक्सीडेंट्स और फाइबर की भरमार होती है इस डाइट से कार्डियोवैस्कुलर डिजीज का रिस्क काफी कम किया जा सकता है टाइप टू डायबिटीज से बचाव भी किया जा सकता है और प्लांट बेस्ड डाइट से कैंसर के रिस्क को कम करना भी पॉसिबल है यानी अगर प्लांट बेस्ड डाइट को अपनाया जाए तो अपनी हेल्थ का बेहतर तरीके से ख्याल रखा जा सकता है और बीमारियों के रिस्क को बहुत ही कम करना आसान हो सकता है वैसे यह तो वाकई में अच्छी बात है 

लेकिन बस इतना ही रोल नहीं है इस डाइट का क्योंकि यह एनवायरमेंट का ख्याल रखना भी जानती है तभी तो ग्रीन हाउस गैस के उत्सर्जन को कम करती है क्योंकि इस डाइट में मीट कंजमेट ऐसे फूड सोर्स है जो सबसे ज्यादा ग्रीन हाउस गैस प्रोड्यूस करते हैं इसी तरह यह डाइट वाटर कंजर्वेशन में भी इंपॉर्टेंट रोल प्ले करती है क्योंकि मीट के लिए जितना फ्रेश वाटर यूज हो जाता है उससे कम में होल ग्रेन प्रोड्यूस किए जा सकते हैं और स्टडी के अकॉर्डिंग अगर एनिमल इंटेक कम कर दिया जाए तो ग्लोबल वाटर यूज को 14 पर तक रिड्यूस किया जा सकता है इतना ही नहीं प्लांट बेस डाइट्स वाटर क्वालिटी को इंप्रूव भी कर सकती है और हां एनिमल क्रुएलिटी को रोकने में भी तो यह डाइट काफी मदद करती है क्योंकि फूड प्रोडक्शन के लिए एनिमल्स के साथ बहुत बुरा बर्ताव किया जाता है और एनिमल फूड कंजप्शन को कम करके उनके साथ होने वाली क्रुएलिटी को भी रोका जा सकता है 

तो इस तरह प्लांट बेस डाइट यूं तो सुनने में सिर्फ एक तरह की डाइट है लेकिन असल में यह हमारी बॉडी को फिट और हेल्दी रख सकती है साथ ही एनिमल्स को प्रोटेक्ट कर सकती है वाटर को सेव कर सकती है और एनवायरमेंट को बेहतर बनाने में हमारी मदद कर सकती है प्लांट बेस्ड डाइट के इतने सारे फायदे जानने के बाद अब अगर आप भी अपनी एनिमल प्रोडक्ट्स बेस्ड डाइट को प्लांट बेस्ड डाइट से रिप्लेस करना चाहते हैं और ऐसे आसान तरीके जानना चाहते हैं जिनके जरिए अब ज्यादा प्लांट बे बे डाइट ले सके तो इन नाइन हेल्पफुल टिप्स को जरूर से अपनाए 

टिप नंबर एक प्लांट बेस डाइट अपनाने का अपना रीजन जानिए 

बहुत बार ऐसा होता है ना कि हमें कोई नया चैलेंज मिलता है तो बस हम शुरू कर देते हैं लेकिन उसे कंटिन्यू नहीं रख पाते और ऐसा आपकी प्लांट बेस डाइट के साथ ना हो इसके लिए यह जरूरी है कि आप इस डाइट को शुरू करने से पहले खुद से यह सवाल पूछे कि आप इस डाइट को क्यों अपनाना चाहते हैं आप चाहे तो एक पेपर पर भी लिख सकते हैं कि आप क्यों इस नई डाइट को अडॉप्ट करना चाहते हैं और इससे जुड़े आपके लॉन्ग टर्म गोल्स क्या हैं क्या पर्सनल हेल्थ को इंप्रूव करने के लिए स अपनाना चाह रहे हैं या एनिमल क्रुएलिटी को रोकने के लिए या एनवायरमेंटल सस्टेनेबिलिटी के लिए या फिर इन सभी रीजंस के लिए तो आपका रीजन जो भी हो उसे फाइंड आउट करिए और अगर वो स्ट्रांग हो तो उससे अपनी मोटिवेशन को बनाए रखें इस न्यू एक्सपीरियंस के लिए 

टिप नंबर दो ब्रेकफास्ट में वेजिटेबल्स लीजिए 

अगर आप अपनी डाइट में सब्जियों की क्वांटिटी इंक्रीज करना चाहते हैं तो इन्हें ब्रेकफास्ट में नाश्ते में भी आप ले सकते हैं और इसके लिए आप वेजी का ब्रेकफास्ट सैलेड बना सकते हैं अपने एग्स में स्पिच ऐड कर सकते हैं और अपनी स्मूदी में कॉलीफ्लावर ब्लेंड भी कर सकते हैं यानी जो भी डिशेस आप ब्रेकफास्ट में लेते हैं उनमें सब्जियों का ज्यादा यूज कर सकते हैं फिर चाहे आप बेसन का चिला बना रहे हो या सैंडविच बना रहे हो 

टिप नंबर तीन हफ्ते में एक बार कुछ नया जरूर ट्राई करिए 

ज्यादा प्लांट बेस्ड डिशेस खाने की अपनी चाहत में आप एक्साइटमेंट भी ऐड कर सकते हैं इस के लिए आप हर हफ्ते एक ऐसी प्लांट बेस डिश बनाना ट्राई कर सकते हैं जो आपके लिए नई हो और यह आपके लिए थोड़ा चैलेंजिंग भी होगा और एक्साइटिंग भी इसलिए इसे करने में आपको नया एक्सपीरियंस मिलेगा और आप इस तरह तैयार की गई न्यू प्लांट बेस डिशेस को बहुत एंजॉय भी करेंगे 

टिप नंबर चार हफ्ते में एक बार वेजिटेरियन डिनर जरूर लीजिए

 हो सकता है कि आप बहुत कम वेजिटेरियन डिशेस लिया करते हो लेकिन अब क्योंकि आप ज्यादा प्लांट बेस्ड डाइट अपनाना चाहते हैं तो इसीलिए हफ्ते में कम से कम एक बार वेजिटेरियन डिनर जरूर प्लान करें ताकि धीरे-धीरे ही सही आप प्लांट बेस डाइट को अपना सके 

टिप नंबर पांच डिजर्ट्स और स्नैक्स में फ्रूट्स लीजिए 

बहुत से डिजर्ट्स बटर और एग्स जैसे एनिमल प्रोडक्ट से बने होते हैं लेकिन इनकी जगह आप फ्रूट्स को भी दे सकते हैं जो आपको नेचुरल मिठास भी दे सकते हैं और ज्यादा प्लांट बेस डाइट लेने का सेटिस्फेक्शन भी इसलिए इसे ट्राई जरूर करके देखिए 

टिप नंबर छह हेल्दी फैट्स लीजिए 

अनसैचुरेटेड फैट्स हमारे हार्ट की हेल्थ के लिए अच्छे होते हैं और प्लांट्स इसके गुड सोर्सेस होते हैं इसलिए आप अपनी डाइट में फ्लैक्स सीड्स चिया सीड्स ओलिव्स और ऑलिव ऑयल अवो काडो और अवोकेडो ऑयल नट्स और उनके ऑयल्स को शामिल कीजिए 

टिप नंबर सात जल्दबाजी से बचिए 

इस प्लांट बेस्ड डाइट की जर्नी शुरू करने का डिसीजन लेने के बाद आप इस पर स्टिक तो रहिए लेकिन जल्द से जल्द शानदार रिजल्ट पाने के लिए बिल्कुल भी जल्दबाजी ना करें क्योंकि हर एक की ब बॉडी ऐसे ट्रांजीशन के लिए डिफरेंटली रिएक्ट करती है तुरंत एनिमल प्रोडक्ट्स खाना बंद करने की बजाय धीरे-धीरे इनकी कम क्वांटिटी लेना शुरू करिए और प्लांट बेस्ड फूड आइटम्स की मात्रा बढ़ाइए ऐसा करने से बॉडी में तुरंत कोई बड़ा चेंज नहीं होगा और बॉडी आसानी से नई डाइट को अपना पाएगी 

टिप नंबर आठ ज्यादा स्ट्रिक्ट मत होइए 

अगर अभी तक आप प्लांट बेस्ड डाइट के साथ ज्यादा फ्रेंडली नहीं थे और अब अचानक आप इसे अपनाना चाह रहे हैं तो आपकी टेस्ट बर्ड्स के लिए भी इतना आसान तो नहीं होगा इसलिए इस डाइट को फॉलो करने के लिए खुद को फोर्स मत कीजिए अगर आपका मन एनिमल प्रोडक्ट्स लेने का करता है तो इट्स ओके टेक योर टाइम ताकि आप प्रेशर में आकर अनकंफर्ट बल होकर इस हेल्दी प्लांट बेस डाइट को छोड़ने का मन ना बनाएं बल्कि धीरे-धीरे ही सही इसके साथ एडजस्ट करना सीख जाएं आगे 

टिप नंबर नौ है बाहर खाते समय भी ध्यान रखिए 

जी हां अगर आपने टारगेट बनाया है कि आप जल्द से जल्द प्लांट बेस डाइट को अपना लेना चाहते हैं और एनिमल प्रोडक्ट्स खासकर मीट से दूरी बनाना चाहते हैं तो केवल घर पर ही नहीं बल्कि बाहर खाना खाते समय भी वेजिटेरियन डिशेस चूज करने की कोशिश करें ताकि आपका यह डाइट मिशन सक्सेसफुल हो सके चाहे आप घर पर हो या बाहर तो इस तरह इन छोटी-छोटी नौ टिप्स को ध्यान में रखकर आप अपनी डाइट में और अपनी डेली लाइफ में हेल्दी एनवायरमेंट फ्रेंडली और एनिमल्स फ्रेंडली प्लांट बेस्ड फूड को शामिल कर सकते हैं और इससे मिलने वाले सारे फायदों को एंजॉय कर सकते हैं तो फिर इसी के साथ कमेंट सेक्शन में लिख कर के बताइए कि इनमें से कौन सी टिप आपको बहुत आसान लगी या ऑलरेडी आप उसे फॉलो कर रहे हैं या फिर काफी सारी कर रहे हैं बस कुछ एक आद बची है 

जो करना बाकी है तो कहने का मतलब है कि ऑलरेडी आप इस मिशन पर है बाय द वे आपको कोई पर्सनल एक्सपीरियंस है प्लांट बेस्ड राइट को लेकर के तो प्लीज आप अपना न्यू एक्सपीरियंस हमारे साथ जरूर शेयर करें और साथ ही आपका कोई नया सवाल है तो प्लीज आप हमें लिख भेजिए और इंतजार कीजिए  पोस्ट के आने का क्योंकि पूरी टीम करती है बहुत ही मेहनत इसलिए थोड़ा इंतजार तो बनता है बाकी आपका प्यार सपोर्ट आप हमें देते रहिए कमेंट सेक्शन में तो मिलेंगे जल्दी ही और नए सवालों के जवाबों के साथ तब तक के लिए जितने नए लोगों ने आज जॉइन किया उनसे रिक्वेस्ट है कि य्हरेड  पर हमेशा ऐसे वीडियोस ऐसी जानकारियां आपको मिलती रहे उसके लिए लाइक आपने कर दिया है और शेयर भी आपने कर दिया है तो दो काम और कर लीजिए सब्सक्राइब करके बेल आइकॉन प्रेस कर दीजिए ताकि कोई भी नोटिफिकेशन भाई आपसे तो मिस होनी ही नहीं चाहिए तो संदीप आपसे कहेगी फिलहाल के लिए कि मिलेंगे जल्दी ही तब तक के लिए जुड़े रहिए य्हरेड  के साथ धन्यवाद

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
9 Tips to Adopting a Plant-Based Diet 10 Effective Tips to Build Wealth धन बनाए रखने के लिए 10 प्रभावी टिप्स किसी कंपनी में सीईओ (CEO) की भूमिका क्या है? 15 Tips to Grow Your Online Business in 2023 यूपीआई से पैसे गलत जगह गए? जानिए 15 छुपे रहस्यमय तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे! धनतेरस क्यों माना जाता है: 10 छुपे और चौंका देने वाले तथ्य दीपावली: 10 गुप्त और अद्भुत तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे 15 सुपर रहस्यमयी तथ्य: जानिए लड़कियों के प्यार में छिपे संकेत हिंदी गीत एल्बम रिलीज के रहस्य: 10 आश्चर्यजनक तथ्य जो आपको चौंका देंगे फोल्डेबल स्क्रीन कैसे काम करती है? इस ताजगी से भरपूर जानकारी के साथ!