12 Ways to Live an Eco-Friendly Lifestyle in 2023 | इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल  जीने के 12 तरीके

12 Ways to Live an Eco-Friendly Lifestyle in 2023 | इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल  जीने के 12 तरीके

Contents

12 Ways to Live an Eco-Friendly Lifestyle in 2023 | इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल  जीने के 12 तरीके

12 Ways to Live an Eco-Friendly Lifestyle :-  अपनी डेली लाइफ में छोटे-छोटे, आसान बदलाव करके आसानी से इको-फ्रैंडली बना जा सकता है, एनवायरमेंट की कंडीशन को बेटर बनाया जा सकता है, नेक्स्ट जनरेशन्स के लिए बेटर फ्यूचर भी तैयार किया जा सकता है, और हमें सबकुछ देने वाले अपने इस प्लैनेट earth पर लाइफ को.. बचाया भी जा सकता है। तो फिर चलिए, yhared.com के आज के इस पोस्ट के जरिये.. उन 12 easy टिप्स को जान लीजिये, जिन्हें अपनाकर आप इको-फ्रैंडली लाइफस्टाइल अडॉप्ट कर सकते हैं.

 

2023 में इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल  जीने के 12 तरीके

 

इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल  जीने के 12 तरीके :- वैसे यह बात तो हम सभी जानते हैं कि क्लाइमेट चेंज ग्लोबल वार्मिंग और रिसोर्स डिप्लीशन हमारे प्लानेट को किस तरह अफेक्ट कर रहे हैं और इसका हम ह्यूमंस और एनिमल्स पर कैसा इंपैक्ट पड़ रहा है तो ऐसे में अब इस नेगेटिव इंपैक्ट से बाहर निकलने का हाई टाइम है इसलिए हमें सस्टेनेबल लिविंग यानी इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल को अडॉप्ट करना ही होगा 

                                                              ताकि फ्यूचर जनरेशन के लिए एनवायरमेंट को बचाया जा सके और प्रिजर्व किया जा सके और अच्छी बात यह है कि इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल को अपनाना बहुत ही आसान है इसका मतलब इस तरह जीना है जो एनवायरमेंट को नुकसान ना पहुंचाए 

बल्कि उसका ख्याल रखें इसके लिए अपनी डेली लाइफ में छोटे-छोटे आसान बदलाव करके आसानी से इको फ्रेंडली बना जा सकता है एनवायरमेंट की कंडीशन को बेहतर बनाया जा सकता है अगली जनरेशन के लिए बेहतर फ्यूचर भी तैयार किया जा सकता है और हमें सब कुछ देने वाले अपने इस प्लानेट अर्थ पर लाइफ को बचाया भी जा सकता है तो फिर चलिए य्हरेड के आज के इस पोस्ट के जरिए उन 12 इजी टिप्स को जान लेते हैं जिन्हें अपना कर के आप इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल को अडॉप्ट कर सकते हैं 

 

टिप नंबर एक है ऑर्गेनिक को अपनाए 

अगर फलों से लेकर कपड़ों तक ऑर्गेनिक प्रोडक्ट्स को ही चूज किया जाए तो प्लानेट पर पड़ने वाले बुरे असर को काफी कम किया जा सकता है ऑर्गेनिक फार्मिंग को प्रमोट करें सपोर्ट करें आर्टिफिशियल केमिकल फर्टिलाइजर्स और पेस्टिसाइड से होने वाले एयर वाटर और सोइल पोल्यूशन को रोका जा सकता है एनिमल वेलफेयर को प्रायोरिटी दी जा सकती है और सिंथेटिक फैब्रिक्स की जगह ऑर्गेनिक कॉटन और बंबू जैसे सस्टेनेबल मटेरियल से बने कपड़े चूज करके भी एनवायरमेंट को प्रोटेक्ट किया जा सकता है क्योंकि यह बायोडिग्रेडेबल क्लोथ्स होते हैं और इन कपड़ों की मैन्युफैक्चरिंग सस्टेनेबिलिटी को ध्यान में रखकर की जाती है यानी प्रॉफिट के बजाय प्लानेट के बारे में सोचकर ही यह कपड़े तैयार किए जाते हैं 

टिप नंबर दो वाटर कंजर्वेशन कीजिए 

पानी की बचत करने की बात तो हम सालों से सुन रहे हैं लेकिन अब इसे पूरी तरह अपना लेने की बारी आ चुकी है वाटर कंजर्वेशन बहुत ही आसान है आप अगर नहाने के लिए कम पानी इस्तेमाल करें लीक हो रहे नलों को ठीक करवा लें नलों को खुला ना छोड़े घर में वाटर सेविंग फिचर्स को इंस्टॉल करवा ले और बारिश के पानी को इकट्ठा करके गार्डनिंग जैसे पर्पस पूरे करने में यूज करने लगे तो आप भी वाटर कंजर्वेशन में कंट्रीब्यूट कर सकते हैं तो बताइए क्या यह सब करना वाकई में मुश्किल है सोचिए 

टिप नंबर तीन है घर को एनर्जी एफिशिएंट बनाइए 

एनर्जी एफिशिएंट अप्लायंसेज में इन्वेस्ट करके और अप्लायंसेज के ओवर यूज को अवॉइड करके आप ऐसा कर सकते हैं अपने घर की लाइट्स को सीएफएल से रिप्लेस करके सोलर पैनल्स का यूज करके और सनलाइट का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करके आप अपने घर को एनर्जी एफिशिएंट बना सकते हैं 

टिप नंबर चार बायोडिग्रेडेबल हाउसहोल्ड प्रोडक्ट्स खरीदिए 

बायोडिग्रेडेबल प्रोडक्ट्स नेचर के कांटेक्ट में आने पर एनवायरमेंट को कोई नुकसान नहीं पहुंचाते हैं क्योंकि वह नेचुरल प्रोसेसेस के थ्रू डिजॉल्ड्रिंग प्रेडियर और इको क्लीनिंग प्रोडक्ट्स को ही प्रेफर करें 

टिप नंबर पांच ग्रीन ट्रांसपोर्टेशन को अपनाए 

ग्रीन ट्रांसपोर्टेशन एनवायरमेंट पर कोई भी नेगेटिव इंपैक्ट नहीं डालता है क्योंकि इससे कार्बन फुटप्रिंट रिड्यूस होता है किसी तरह का एयर पोल्यूशन और नॉइस पोल्यूशन नहीं होता है और इस इको फ्रेंडली ट्रांसपोर्टेशन ऑप्शन को अपनाना काफी आसान है इसके लिए आप कोशिश कीजिए कि पर्सनल व्हीकल की जगह ज्यादा से ज्यादा पब्लिक ट्रांसपोर्टेशन का यूज करें वॉकिंग और साइकलिंग के थ्रू ट्रेवल करने की कोशिश करें और अपनी पर्सनल कार से ऑफिस जाने की बजाय कार पूल करने की आदत बना ले 

टिप नंबर छह डिवाइसेसपोर्ट करने के अलावा पावर सोर्स से अनप्लग करके भी आप इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल को अपना सकते हैं 

हर इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को यूज ना आने के समय एनर्जी सोर्स से हटा कर के रख सकते हैं जैसे कि स्मॉल किचन अप्लायंसेज चार्जेस और कंप्यूटर्स क्योंकि डिवाइसेज ऑफ होने पर भी इलेक्ट्रिसिटी यूज करती हैं और अगर इन्हें अनप्लग करके रखा जाए तो एनर्जी यूजेस को कम किया जा सकता है एनर्जी सेव की जा सकती है मंथली इलेक्ट्रिसिटी बिल को कम किया जा सकता है और इन डिवाइसेसपोर्ट इंक्रीज किया जा सकता है और हमारे एनवायरमेंट की मदद भी की जा सकती है 

टिप नंबर सात सस्टेनेबल पैकेजिंग वाले प्रोडक्ट्स खरीदिए 

जब आप शॉपिंग करने जाएं तो कोशिश करें कि कम पैकेजिंग वाले प्रोडक्ट्स खरीदें क्योंकि ऐसे प्रोडक्ट सस्टेनेबल पैकेजिंग ऑफर करेंगे आप चाहे तो शॉपिंग के लिए अपने बैग्स को भी लेकर जा सकते हैं ताकि आपको पैकेजिंग की ज्यादा जरूरत ना पड़े और आप अपने साथ एनवायरमेंट को नुकसान पहुंचाने वाले प्लास्टिक बैग्स को लेकर ना आए पैकेजिंग की की ज्यादातर फॉर्म एनर्जी वाटर केमिकल्स पेट्रोलियम जैसे रिसोर्सेस का यूज करके तैयार की जाती है जो रिसोर्सेस को कम करने के साथ-साथ एनवायरमेंट को दूषित यानी कि कंटेम भी करती हैं 

टिप नंबर आठ रिड्यूस रीयूज एंड रिसाइकल का फार्मूला अपनाए

 प्लास्टिक के यूज को रिड्यूस कीजिए और हो सके तो सिंगल यूज प्लास्टिक को ज्यादा से ज्यादा अवॉइड करिए क्योंकि इसे डीकंपोज होने में मिलियन सालों लग जाते हैं और यह एनवायरमेंट और हमारी लाइफ पर बहुत ही बुरा असर डाल ता है इसलिए इसकी जगह रीयूबेन शॉपिंग बैग्स रेजर्स कप्स डाइपर बैटरीज और कॉफी फिल्टर्स जैसे हर डिस्पोजेबल प्रोडक्ट को रीयूबेन करने की कोशिश करिए और ऐसे प्रोडक्ट्स खरीदिए जो रिसाइकल मटेरियल से बने हो या जिन्हें रिसाइकल किया जा सकता हो 

टिप नंबर नौ मिनिमलिज्म अपनाए 

एक मिनिमलिस्ट की जिंदगी बहुत ही सिंपल होती है क्योंकि वह अपने आसपास उतना ही सामान रखता है जितने कि उसको जरूर जरत होती है मिनिमलिस्ट बन कर के ना केवल आप अपनी फिजिकल और मेंटल हेल्थ में सुधार कर सकते हैं बल्कि एनवायरमेंट को सपोर्ट भी कर सकते हैं क्योंकि मिनिमलिज्म को अपना कर के आप कपड़े खाना और ऐसे अदर आइटम्स पर कम खर्चा करेंगे कम शॉपिंग करेंगे यानी वेस्ट भी कम ही होगा आप ज्यादा चीजों का यूज करने की बजाय रिसाइकल ज्यादा करेंगे और ऐसा करते हुए आप इको फ्रेंडली लाइफस्टाइल को अपनाते चले जाएंगे 

टिप नंबर 10 पेपर का यूज कम करिए

पेपर का कम यूज करके भी आप एनवायरमेंट फ्रेंडली बन सकते हैं क्योंकि पेपर के प्रोडक्शन में बहुत से पेड़ काटे जाते हैं जिसका नेचर पर बुरा असर पड़ता है और पेपर प्रोडक्शन के प्रोसेस में एयर पोल्यूशन वाटर पोल्यूशन होता ही है बहुत से सॉलिड वेस्ट प्रोड्यूस होते हैं ग्लोबल ग्रीन हाउस गैस निकलती है और एनर्जी रिसोर्सेस का यूज भी होता है तो ऐसे में इसे रोकने के लिए पेपरलेस नोट्स लिए जा सकते हैं राइटिंग और रीडिंग के लिए ई रिसोर्सेस यूज किए जा सकते हैं और अपनी फाइल्स को ऑन ऑनलाइन स्टोर भी किया जा सकता है 

टिप नंबर 11 लोकल प्रोडक्ट्स को खरीदिए 

फूड आइटम से लेकर के कपड़ों तक अगर आप हर चीज लोकल मार्केट से खरीदेंगे तो इससे आपको सामान सही दाम में भी मिल जाएगा फ्रेश आइटम्स भी मिल पाएंगे लोकल इकॉनमी को आप सपोर्ट भी कर लेंगे और इन लोकल प्रोडक्ट्स के ट्रांसपोर्टेशन में कार्बन भी बहुत ही कम बनेगा जिससे एनवायरमेंट की बहुत मदद हो जाएगी यानी आपकी यह लोकल प्रोडक्ट शॉपिंग इको फ्रेंडली बन जाएगी 

टिप नंबर 12 फूड को वेस्ट होने से बचाइए 

फूड वेस्ट करना किसी भी तरीके से अच्छी हैबिट नहीं है और फिर यह एनवायरमेंट को भी काफी नुकसान पहुंचाती है क्योंकि वेस्टेड फूड जब लैंडफिल में जाता है और सड़ने लगता है तब यह मीथेन गैस बनाता है जो कार्बन डाइऑक्साइड से भी ज्यादा हार्मफुल ग्रीन हाउस गैस है और ग्लोबल वार्मिंग को बढ़ाती है मीथेन की मात्रा ज्यादा होने पर ऑक्सीजन का लेवल भी कम होने लगता है जिससे हमें सांस लेने में तकलीफ हो सकती है इसका मतलब फूड वेस्ट करना छो छोड़ दिया जाए और बचे हुए 

 

खाने का सही इस्तेमाल करने के तरीके सीख लिए जाएं जैसे फूड आइटम्स की सही मात्रा खरीदी जाए उन्हें सही तरीके से स्टोर किया जाए और किचन वेस्ट से कंपोस्ट तैयार करके सोइल क्वालिटी में सुधार किया जाए और इस तरह इन बारे इको फ्रेंडली तरीकों को अपनाकर अपने एनवायरमेंट की मदद की जा सकती है खुद के लिए और आगे आने वाली जनरेशन के लिए एक फ्रेश और हेल्दी एनवायरमेंट हम बना सकते हैं इसलिए अभी से इन सारे तरीकों को अपनाना शुरू कर दीजिए और हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताइए कि आप पहले से कौन से तरीके अपना रहे हैं और अब आप किन तरीकों को तुरंत अडॉप्ट कर सकते हैं और साथ ही यह पोस्ट यह जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट सेक्शन में अपना प्यार और सपोर्ट हमारे साथ शेयर कीजिए 

 

तो फिर इसे बाकी लोगों के साथ शेयर करें और साथ ही साथ कोई भी आपका सवाल है वो हमें लिख भेजिए बाकी सब्सक्राइब नहीं किया है तो लगे हाथ यह काम भी कर लीजिए बेल आइकन प्रेस कर दीजिए ताकि ऐसे पोस्ट के नोटिफिकेशन आपको हमेशा मिलते रहे संदीप  आपसे मिलेगी और ऐसी जानकारियों के साथ तब तक के लिए धन्यवाद

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top
9 Tips to Adopting a Plant-Based Diet 10 Effective Tips to Build Wealth धन बनाए रखने के लिए 10 प्रभावी टिप्स किसी कंपनी में सीईओ (CEO) की भूमिका क्या है? 15 Tips to Grow Your Online Business in 2023 यूपीआई से पैसे गलत जगह गए? जानिए 15 छुपे रहस्यमय तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे! धनतेरस क्यों माना जाता है: 10 छुपे और चौंका देने वाले तथ्य दीपावली: 10 गुप्त और अद्भुत तथ्य जो आपको हैरान कर देंगे 15 सुपर रहस्यमयी तथ्य: जानिए लड़कियों के प्यार में छिपे संकेत हिंदी गीत एल्बम रिलीज के रहस्य: 10 आश्चर्यजनक तथ्य जो आपको चौंका देंगे फोल्डेबल स्क्रीन कैसे काम करती है? इस ताजगी से भरपूर जानकारी के साथ!